शिवसेना-मनसे का कांग्रेस प्रेम अपने प्रेमी को सताने के लिए किया गया एक दिखावटी प्रेम ज्यादा लगता है

2014 आम चुनाव से पहले महाराष्ट्र में बीजेपी जूनियर साथी और लेकिन मोदी-शाह युग में शिवसेना को उतनी इज्ज़त नहीं मिल रही है जो अटल-आडवाणी के समय मिलती थी।