You are here

गुजरात विधानसभा चुनाव: क्या कांग्रेस की नई तिकड़ी ‘हार्दिक-अल्पेश-मेवाणी’ बीजेपी के लिए चुनौती बनेगी ?

गुजरात में पाटीदार 18 फीसदी और दलित 7 फीसदी हैं ऐसे में हार्दिक पटेल,अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी का साथ कांग्रेस के लिए संजीवनी जैसा काम कर सकता है।

गुजरात विधानसभा चुनाव: क्या कांग्रेस की नई तिकड़ी 'हार्दिक-अल्पेश-मेवाणी' बीजेपी के लिए चुनौती बनेगी ? Breaking News आज की रिपोर्ट देश बड़ी ख़बरें विश्लेषण 

गुजरात में बीजेपी को रोकने के उद्देश्य से कांग्रेस ने राज्य के तीन युवा नेताओं – पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, ओबीसी समुदाय के नेता अल्पेश ठाकोर और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी को साथ आने का न्योता दिया है।हार्दिक, अल्पेश और जिग्नेश की तिकड़ी का समर्थन मिलना कांग्रेस के लिए संजीवनी जैसा काम कर सकता है , क्योंकि गुजरात में पाटीदार और दलित समुदाय की आबादी 25 फीसदी है।गुजरात में  पाटीदार 18 फीसदी और दलित 7 फीसदी हैं। पाटीदार समाज भाजपा का परंपरागत वोटबैंक रहा है और उसके खिसकने का नुकसान निश्चित तौर पर भाजपा को होगा। पटेल-ओबीसी की गोलबंदी की स्थिति में यह वोट बैंक कांग्रेस के लिए बेहद अहम साबित हो सकता है। कांग्रेस ने इसके अलावा एनसीपी और जेडीयू के एकमात्र विधायक छोटू भाई वसावा के साथ भी चुनाव पूर्व गठबंधन का संकेत दिया है।

कांग्रेस प्रमुख भरतसिंह सोलंकी ने भरोसा जताया कि इन नेताओं के समर्थन से पार्टी कुल 182 सीटों में 125 से ज्यादा सीटें आसानी से जीत जाएगी। प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए सोलंकी ने पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल को विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सपोर्ट करने की अपील की।कांग्रेस प्रमुख ने साथ में यह भी कहा की अगर हार्दिक चुनाव लड़ने की इच्छा रखते हैं तो हम भविष्य में उन्हें टिकट भी देंगे।हार्दिक पटेल की उम्र महज 24 साल है ऐसे में वे चुनाव के मैदान में नहीं उतर सकते हैं।

हालांकि हार्दिक पटेल ने ट्वीट कर कांग्रेस के चुनाव लड़ने के आमंत्रण को ठुकरा दिया है।हालांकि हार्दिक ने यह जरूर कहा कि बीजेपी को हराने के लिए वे कांग्रेस का समर्थन करेंगे। हार्दिक ने कहा है कि जो भी बीजेपी को हराएगा हम उसके साथ हैं।हार्दिक ने ट्वीट कर लिखा,” मुझे चुनाव नहीं लड़ना और चुनाव लड़ने का हमारा स्वार्थ भी नहीं हैं।हमें अधिकार चाहिए और न्याय,हम अहंकार के सामने लड़ रहें हैं।जीत हमारी होंगी।”

कांग्रेस में शामिल होंगे अल्पेश

इस बीच गुजरात की पिछड़ी जातियों के युवा नेता अल्पेश ठाकोर की नई दिल्ली में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात हुई, जिसके बाद उन्होंने पार्टी में शामिल होने का ऐलान किया। ठाकोर राज्य में ओबीसी के एक युवा नेता के रूप में उभरे हैं। वह पाटीदार समुदाय को ओबीसी के दायरे में लाने के विरोधी रहे हैं।इस बैठक में सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल, गुजरात कांग्रेस के प्रभारी अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी भी मौजूद थे।ठाकोर ने बैठक के बाद कहा, ‘राहुल गांधी 23 अक्टूबर को होने वाली हमारी रैली में शामिल होंगे और हम कांग्रेस में शामिल होंगे।’

जिग्नेश मेवाणी ने फैसला टाला

जिग्नेश मेवाणी ने यह कहा कि वे अन्य दलित संगठनों से बातचीत करके ही कांग्रेस के प्रस्ताव पर कोई फैसला लेंगे।

 

Tagged :

Related posts