You are here

अमरनाथ यात्रियों पर आतंकवादी हमला, 7 यात्रियों की मौत

ये बस बिना सुरक्षा के देर रात कैसे चल रही थी, ये अपने आप में हैरान करने वाला है।

Amarnath Yatra Terror Attack, 7 killed देश बड़ी ख़बरें 
जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में रात आठ बजकर 20 मिनट पर आतंकवादियों ने अमरनाथ यात्रा से लौट रहे यात्रियों पर हमला किया। सात श्रद्धालुओं के मौत की खबर है और 12 यात्री जख्मी हो गए हैं। ये बस बलटाल से  आ रही थी और पहले से पुलिस या श्राइन बोर्ड के साथ रजिस्टर्ड नहीं थी, इसलिए बस के आगे और पीछे पुलिस की गाड़ियां नहीं चल रही थी। इसी का फायदा उठाकर आतंकियों ने बंटिगू एरिया में बस पर गोलियां चलाई। गोलियां की आवाज़ सबसे पहले जम्मू कश्मीर पुलिस के जवानों ने सुनी, पुलिस का बंकर पास ही था, पुलिस के जवानों ने आतंकवादियों पर गोलियां दागी और आतंकवादी भाग निकले। इसके बाद आतंकवादियों ने दूसरा हमला किया। हसनपुरा के सीआरपीएफ कैंप पर भी आतंकवादियों ने गोलियां चलाई।
खबर है कि दोनों हमला एक ही ग्रुप के आतंकवादियों ने किया। घायल श्रद्धालुओं को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है। मृतक यात्री गुजरात के बताए जा रहे हैं क्योंकि बस गुजरात से आई थी। ज्यादातर यात्री वलसाड के थे जो दर्शन कर लौट रहे थे। ये बस बिना सुरक्षा के देर रात कैसे चल रही थी, ये अपने आप में हैरान करने वाला है। रात में अमरनाथ यात्रियों की बसों को चलने नहीं दिया जाता। शाम 7 बजे तक यात्री बेस कैम्प पहुंच जाते हैं, लेकिन ये बस रात के अंधेरे में बिना सुरक्षा के चल रही थी।
Tagged :

Related posts